कच्ची घानी तेल के फायदे । Benefits of coldpressed oil

Spread the love

आज हम कई प्रकार के तेल का प्रयोग कर रहे है, चाहे वो खाने का तेल हो या फिर त्वचा पर लगाने का या बालों का तेल हो आज दुनिया भर मे अनेकों अनेक तेल मोजूद है और हम कमफ्यूज हो जाते है, की किस तेल का प्रयोग करे और कोन सा तेल हमारे स्वास्थ्य लिए ज्यादा फायदेमंद है और जीतने भी तेल है वो पौधों से प्राप्त होता है और कुछ तेल बीजों से प्राप्त होते है, और कुछ पेड़ों से प्राप्त होते है। जैसे सूरज मुखी, का तेल सरसों का तेल, मूंगफली का तेल, तिल का तेल, जेतऊँ का तेल, बादाम का तेल आँवले का तेल, नारियल का तेल जैसे अनैक तेल मार्केट मे उपलब्ध है। और आज हम जानेंगे कच्ची घानी तेल के फ़ायदों के बारे मे। 

अगर माना जाए तो सेहत के लिए सबसे अच्छा तेल जो कोल्ड प्रेस्ड आयल होता है। जिसे हम कच्ची घनी का तेल कहते है और दुनिया भर मे अनैक लोग इसका प्रयोग कर रहे है। और आदिकाल से इस कच्ची घनी के तेल प्रयोग होता आ रहा है। क्योंकि कच्ची घानी का तेल सेहत के लिए अच्छा माना जाता है। और इस कच्ची घानी के तेल के बहुत सारे फायदे है। कच्छी घानी के तेल मे कोई भी रासायनिक तत्व नहीं होते है। ये सीधा घानी से निकालकर उपलब्ध कराया जाता है। जो स्वस्थ के लिए बहुत ही फायदेमंद है। आज हम इस पोस्ट मे कच्ची घानी तेल के फायदो के बारे मे जानेंगे।

कच्ची घनी तेल क्या होता है?

जैसे की हमने पहले जाना की तेल पौधों और बीजों से बनाया जाता है। 2 तरीकों से बीजों से तेल निकाल जाता है। पहला तरीका जिसमे बीजों के साथ रासयनिक घोल का प्रयोग किया जाता है जिसमे बीजों के साथ रासायनिक घोल मिलकर बीजों से एक निचोड़ निकाल जाता है और इस निचोड़ को रिफाइंड करके अलग अलग किया जाता है। और इस प्रोसेस मे तेल से अशुद्धियों को निकाल जाता है। और पोषक तत्वों को सामिल किया जाता है। जिसे हम रिफाइंड ऑइल कहते है। जो आज कल मार्केट मे बहुतायत से उपलब्ध है। ये बड़ी आसानी से मार्केट मे मिल जाता है।

दूसरा तरीका जो पारंपरिक होता है। जिसमे कच्ची घानी से तेल प्राप्त किया जाता है। इस विधि मे बीजों को कूटा जाता है और उन बीजों पर दबाव डाला जाता है। जिससे बीजों से ताल बाहर निकला जाए और बीजों का गुदा और तेल अलग हो जाए और इस अलग कीये गए तेल को ही कच्ची घनी का तेल कहते है। जिसमे कोई रासायनिक घोल नहीं मिलया जाता है। और ना ही इसे गर्म किया जाता है। इसी कारण कच्ची घानी के तेल को प्रयोग ज्यादातर लोग अपने खाने मे करते है। क्योंकि ये सीधा बीजों से निकाल जाता है। और यह विधि बहुत पुरानी है। पुराने जमाने मे लोग तेल इसी विधि से निकाला करते थे। और तेल शरीर को कोई नुकसान नहीं पहुचता है और ये हमारे लिए बहुत ही फायदेमंद है। इस तेल के प्रयोग से स्वास्थ्य को कोई नुकसान नहीं होता है।

और पड़े ओट्स (जई) के फायदे, उपयोग और नुकसान ।

कच्ची घानी तेल के फायदे । Benefits of coldpressed oil :-

कच्ची घनी तेल के कई लाभ होते है और कच्ची घनी तेल हमारे लिए फायदेमंद भी है | इसके अनैक सबूत भी है तो जानते है कच्ची घानी के तेल के उन अनैक फ़ायदों के बारे मे जो निम्न प्रकार के है –

इम्यूनिटी बडाने मे मदद करता है :-

कच्ची घानी तेल मे एंटीऑक्सीडेंटस तत्व काफी मौजूद होते है। और इसके अलावा अनैक तत्व मोजूद होते है, जिससे हमारे शरीर का इम्यून सिस्टम मजबूत होता है और हमे अनैक रोगों से बचता है कच्ची घानी का तेल रोगों से लड़ने मे बहुत फायदेमंद होता है। इसलिए हमे भी इस तेल का प्रयोग अपने खाने मे जरूर करना चाहिए।

हार्ट को स्वास्थ्य बनाता है:-

कोल्डप्रेस्ड आयल ( कच्ची घानी तेल ) मे एंटीपालीअनसेचूरेटेड फेटी एसिड की बहुत अधिक मात्र होती है। जो हार्ट के लिए बहुत फायदेमंद होता है। और इसके अलावा कच्ची घानी तेल मे ओमेगा 3 और ओमेगा 6 फेटी एसिड भी मोजूद होते है। जो की हार्ट के लिए बहुत फायदेमंद है।

ब्लड शुगर कंट्रोल:-

कच्ची घानी का तेल ब्लड शुगर कंट्रोल करने मे भी बहुत मदद करता है यह कुछ अध्यायों मे पता लगाया है, की ब्लड शुगर कंट्रोल करने मे कच्ची घानी का तेल प्रयोग करना चाहिए ये तेल टाइप 2 डेबिटीस मे भी मदद करता है।

त्वचा के लिये फायदेमंद:-

कच्ची घनी तेल मे एंटी ऑक्सीडेंट तत्व बहुत अधिक मात्र मे होते है। जो त्वचा और बालों के लिए बहुत फायदेमंद होते है। जिससे त्वचा पर कील मुहासे नहीं होते है। क्योंकि यह तेल केमिकल फ्री होता है। जिससे त्वचा और बालों मे लगाने से त्वचा और बाल दोनों मुलायम रहते है। इससे त्वचा को कोई भी नुकसान नहीं होता है। और यह बालों को भी मजबूत बनाता है।

और पड़े त्वचा की बीमारी- सोरायसिस के बारे मे 

इंफ्लामेसन से लड़ने मे:-

कच्ची घानी तेल मे एंटी इंफ्लानेन्ट्री तत्व होते है, जो इंफ्लामेसन को कम करने मे मदद करता है।


Spread the love

Leave a Comment