Ceftriaxone Antibiotic in Hindi | सेफ्ट्रियक्सोन की जानकारी

Spread the love

आज हम जानेगे Ceftriaxone Antibiotic के बारे मे जो की डॉक्टर द्वारा मरिज को पर्ची मे लिखी जाने वाली एक दवा है, जो बैक्टीरिया से लड़ने का कार्य करती है। जिसका प्रयोग बैक्टीरियल इन्फेक्शन मे किया जाता है। अगर हम बात करे इस दवा की खोज की तो, यह दवा 1978 मे पेटेंट हुई थी और 1982 से इस दवाई का मिडिसिनल उपयोग होता आ रहा है। और यह दवा WHO (World Health Organization) द्वारा प्रमाणित दवा है। WHO के द्वारा कहा गया है, की बहुत ही सैफ मेडिसीन है, बहुत ज्यादा इफेक्टिव दवा है। और यह दवा मोस्ट एसेंसियल एंटीबायोटिक है। और यह दवा cephalosporin ग्रुप के अंतर्गत आती है। आज हम Kumar Medical Care की इस पोस्ट Ceftriaxone Antibiotic in Hindi मे आपको Ceftriaxone दवा के बारे मे जानकारी दे रहे है। जिसमे हम जानेगे इस दवा के लाभों के बारे मे, यह दवा क्या किन किन बीमारियों को ठीक करने मे उपयोग मे लाई जाती है। और हम जानेगे इस दवा के साइड इफेक्टस के बारे मे इस दवा से क्या हमारी बॉडी मे क्या नुकसान हो सकते है। इसके अलावा इस दवा को लते समय कोन कोन सी सावधानीयाँ रखनी चाहिए। इन सभी पॉइंट के बारे मे इस आर्टिकल Ceftriaxone Antibiotic in Hindi मे नीचे अलग अलग सेक्सन मे लिखा गया है।

Ceftriaxone Antibiotic के बारे मे:-

Ceftriaxone Antibiotic cephalosporin ग्रुप की दवा है। जो बैक्टीरिया से लड़ने का काम करती है। Ceftriaxone Antibiotic केवल इन्जेक्शन फॉर्म मे ही पाई जाती है। इसकी कोई ओरल मेडिसिन नहीं आती है। आप इस एंटीबायोटिक को ऑरली नहीं ले सकते हो, इसको केवल इन्जेक्शन के द्वारा ही उपयोग कर सकत है। जो अधिकतर उपयोग मे लाई जाने वाली दवा है।

Machenism of action। Ceftriaxone Antibiotic का बैक्टीरिया के प्रति एक्शन:-

Ceftriaxone ब्रॉड स्पेक्ट्रम एन्टीबायोटिक है, जो cephalosporin ग्रुप की दवा है। Ceftriaxone Antibiotic थर्ड जनरेसन cephalosporin ग्रुप की दवा है। Ceftriaxone Antibiotic Bactericidal एक्टिविटी रखती है। यह दवा बैक्टीरियल कोशिकाओ को नस्ट कर देती है। बैक्टीरियल कोशिकाओ मे यह पेनिसिलिन-बाइंडिंग प्रोटीन रोक देती है। जिस कारण बैक्टीरियल कोशिका की दीवार का संश्लेषण रुक जाता है। संश्लेषण रुक जाने से बैक्टीरिया की मृत्यु हो जाती है। Ceftriaxone Antibiotic ग्राम पाज़िटिव और ग्राम नेगीतिव बैक्टीरिया को मारने का कार्य करती है।

Ceftriaxone Antibiotic का असर लगभग 2 से 3 घंटे मे शुरू होता है। और इस दवा असर लगभग 24 घंटे तक रहता है।

और पड़े:- Cefoperazone Antibiotic in Hindi | सेफ़ोपेराजोन की जानकारी

Ceftriaxone Antibiotic के लाभ Ceftriaxone Antibiotic Benefits in Hindi :-

Ceftriaxone Antibiotic को उपयोग करने के तरीके | Ceftriaxone Antibiotic Uses in Hindi:-

Ceftriaxone इन बिमारियों के इलाज में काम आती है

  1. बैक्टीरियल इन्फेक्शन (Bacterial infection):- यह दवाई बैक्टीरिया से लड़ने का कार्य करती है। जो की हर तरह के ग्राम पाज़िटिव बैक्टीरिया और ग्राम नेगीटिव बैक्टीरिया को मरने के लिए सक्षम है।
  2. रेसपिरेट्री ट्रैक्ट इन्फेक्शन (Respiratory tract infection):- ये एंटीबायोटिक लोवर रेसपिरेट्री ट्रैक्ट इन्फेक्शन मे उपयोग की जाती है, अगर पेसेन्ट को फेफड़ों मे कोई बैक्टीरियल इन्फेक्शन हो गया है, तो उसे ठीक करने के लिए इस एंटीबायोटिक का प्रयोग किया जाता है। जैसे की निमोनिया, ब्रॉनकाइटीस एसी परिस्थितीयो मे इस दावा का प्रयोग किया जाता है।
  3. मस्तिष्क इन्फेक्शन(Bain infection):- अगर किसी को ब्रेन मे इन्फेक्शन हो जाए तो उस इन्फेक्शन को ठीक करने के लिए भी इस दावा का प्रयोग डॉक्टर द्वारा किया जाता है। जैसे Meningitis एसी स्थितियों मे इस एंटीबायोटिक का प्रयोग किया जाता है।
  4. पेल्विक इंफ्लेमेटरीडिजीज (Pelvic Inflammatory Disease):- ceftriaxone दवा का प्रयोग पेल्विक इंफलमेंटोरी डिसिस मे भी इसका प्रयोग किया जाता है। जैसे औरतों मे गर्भाशय मे किसी प्रकार का बैक्टीरियल इन्फेक्शन हो जाए तो, उसको ठीक करने के लिए भी इस दावा का प्रयोग किया जाता है।
  5. सेक्सअली ट्रानमिटेड डिसिज (Sexually Transmitted Diseases):- अगर किसी पेसेन्ट को सेक्शुअल ट्रासमिटेड डिसिज हो जाए, जैसे क्लैमाइडिया, गोनोरिया जैसी डिसिज को ठीक करने के लिया भी इस दवा का प्रयोग डॉक्टर द्वारा किया जाता है।
  6. बोन एण्ड जॉइंड इन्फेक्शन (Bone and Joints Infection):- इस दवा का उपयोग हड्डियों के संक्रमण मे भी किया जाता है। इन्फेक्शन के कारण हड्डियों मे सूजन आ गई हो। या फिर हड्डियों मे पस बनने लगी हो या फिर इन्फेक्शन के कारण हड्डियों मे कोई बीमारी लग गई हो, तो एसी परिस्थिति को ठीक करने मे यह दवा उपयोग मे ली जाती है।
  7. इंट्रा एब्डोमीनल इन्फेक्शन (Intra Abdominal Infection):अगर किसी को एब्डोमीनल मे किसी प्रकार का इन्फेक्शन हो गया है। जैसे की आंतों मे बैक्टीरियल इन्फेक्शन हो या किसी भी पार्ट मे इन्फेक्शन हो गया हो, तो उसे भी ठीक करने के लिए डॉक्टर द्वारा इस दावा का प्रयोग किया जाता है।
  8. सेफटीसेमिया और बैक्टीरेमिया (Septicemia or Bacteraemia):- अगर हमारी पूरी बॉडी मे बैक्टीरियल इन्फेक्शन लग जाए, जैसे सेफटीसेमिया हो जाए या बैक्टीरेमिया हो जाए या हमरे खून मे ही बैक्टीरियल इन्फेक्शन लग जाए, तो एसी स्थिति मे भी डॉक्टर द्वारा दवा का प्रयोग किया जाता है।
  9. सर्जरी प्रोफलैक्सिस (Surgical Prophylasis):- Ceftriaxone का उपयोग सर्जरी के पहले भी इस दवा का प्रयोग किया जाता है। ताकि किसी भी तरह का इन्फेक्शन न हो।
  10. कान इन्फेक्शन (Ear Infection):- अगर किसी पेसेन्ट को कान मे इन्फेक्शन हो गया है, जिस कारण पेसेन्ट के कान मे दर्द होता है, कान मे बहने लगता है, खान मे पस पड़ गई हो, कान भारी भारी लगता है। तो एसी कन्डिशन को ठीक करने के लिए डॉक्टर द्वारा इस दवाई का उपयोग किया जाता है।
  11. स्किन इन्फेक्शन(Skin Infection):- अगर किसी पेसेन्ट को स्किन मे कही पर भी इन्फेक्शन हो गए है या घाव बन गए है, तो उसे ठीक करने के लिए इस दवा का प्रयोग किया जाता है।
  12. लाइम रोग (Lyme Disease):- लाइम रोग एक प्रकार का इन्फेक्शन है, जो एक छोटे से किट के काटने से होता है, यह रोग बोलेरिया बर्गडोर्फेरी नाम के बैक्टीरिया के कारण होता है। जिसमे व्यक्ति को तेज बुखार, सिर दर्द, कमजोरी, माँसपेसियों और जोड़ों मे दर्द आदि समस्याये होती है। तो इस रोग को ठीक करने के लिए भी इस दवा का प्रयोग किया जाता है।
  13. फूड पाइजनिंग (Food poisoning):- फूड पाइजनिंग बैक्टीरिया वाइरस और ज़्म्स के कारण होती है। जिस कारण पेसेन्ट को पेट दर्द होना, उलटी दस्त होना, सिर दर्द होना, बुखार आना, आदि समस्याये होती है। तो इस रोग को भी ठीक करने के लिए डॉक्टर द्वारा इस दवा का प्रयोग किया जाता है।

और पड़े:-  Cefadroxil Antibiotic in Hindi | सेफाड्रॉक्सिल की जानकारी

Ceftriaxone Antibiotic की सामग्री | Ceftriaxone Antibiotic Active Ingredients in Hindi:-

Ceftriaxone

Ceftriaxone Antibiotic की खुराक | Ceftriaxone Antibiotic Dosage in Hindi :-

Ceftriaxone Antibiotic के इस्तेमाल करने के तरीके | How to Take Ceftriaxone Antibiotic in Hindi

अगर हम Ceftriaxone Antibiotic की डोज की बात करे, बीमारी की गंभीरता के अनुसार दवा की डोज अलग-अलग हो सकती है, और इसके अलावा मरीज की उम्र के अनुसार दवा की को घटाया और बड़ाया भी जा सकता है। ये दवा पेसेन्ट की बॉडी के वैट के अनुसार पेसेन्ट को दी जाती है। इस दवा की नार्मल डोज की बात करे तो 50-70mg/kg/day दी जाती है। इसका मतलब 1kg वैट पर 50-70mg दवा पूरे दिन मे दी जाती है और इस दवा की डोज को अलग-अलग डोज मे डिवाइड करना होता है। जैसे-

  • अगर किसी पेसेन्ट का वैट 10 kg है, तो उस पेसेन्ट को ये दवा 500-750mg/day दिया जाता है। इसको 2 पार्ट मे डिवाइड करके दिया जाता है। आधा पार्ट सुबह और आधा पार्ट साम को दिया जाता है।
  • अगर किसी पेसेन्ट का वैट 20kg है, तो उस पेसेन्ट को ये दवा 1000-1500mg/day पुए दिन मे 2 भागों मे दिया जाता है।
  • अगर किसी पेसेन्ट का वैट 40kg है, तो उस पेसेन्ट को ये दवा 2000mg/day पूरे दिन मे 2 भागों मे दिया जाता है। 1000 mg सुबह ओर 1000mg शाम को दिया जाता है।

और पड़े:- Bacampicillin in Hindi | बैकाम्पिसिलिन की जानकारी

Ceftriaxone Antibiotic के नुकसान, दुष्प्भाव और साइड इफेक्ट्स । Ceftriaxone Antibiotic Side Effects in Hindi

अगर हम Ceftriaxone Antibiotic के नुकसान और दुष्प्रभाव की बात करे, जिस दवा की इफेक्टस होती है, उस दवा की साइड इफेक्टस भी होती है। लेकिन महत्वपूर्ण बात ये है, की ये साइड इफेक्टस हर किसी को नहीं होती है, जिस व्यक्ति को पर्टिक्युलर मोलिक्यूर से सिन्सिटिविटी होती है, उसे ही साइड इफेक्टस  होती है। Ceftriaxone Antibiotic के भी कुछ साइड इफेक्टस देखे गए है, जो रिसर्च के आधार पे Ceftriaxone Antibiotic के निम्न साइड इफेक्ट्स देखे गए हैं –

  1. किसी किसी पेसेन्ट को मतली या उलटी हो सकती है।
  2. किसी किसी पेसेन्ट को इन्जेक्शन जी जगह पर दर्द और सूजन आ जाना सकती है।
  3. इस दवा से किसी पेसेन्ट को दस्त लग सकती है।
  4. इंजेक्शन लगने वाली जगह पर एलर्जी की प्रतिक्रिया हो सकती है।
  5. किसी पेसेन्ट को स्किन रेसेस हो सकते है या स्किन पर लाल चकते हो सकते है।
  6. किसी किसी पेसेन्ट को पेट की गैस भी हो सकते है।
  7. किसी किसी पेसेन्ट को चक्कर आना आ सकते है।
  8. किसी किसी पेसेन्ट को सिर दर्द हो सकता है।
  9. किसी किसी पेसेन्ट को ठंड लग सकती है।
  10. किसी किसी पेसेन्ट को कमजोरी हो सकती है।
  11. किसी किसी पेसेन्ट को डार्क कलर की यूरिन हो सकता है।
  12. किसी किसी पेसेन्ट को शरीर मे एठन हो सकती है।
  13. किसी किसी पेसेन्ट को स्टूल का रंग बदल सकता है।
  14. किसी किसी पेसेन्ट को बुखार आ सकती है।
  15. किसी किसी पेसेन्ट को गले मे खराश हो सकती है.
  16. किसी किसी पेसेन्ट को हार्ट फेलियर हो सकती है।
  17. किसी किसी पेसेन्ट को एनीमिया हो सकता है।
  18. किसी किसी पेसेन्ट को सांस लेने मे तकलीफ हो सकती है।
  19. किसी किसी पेसेन्ट को चेहरे, होंठ, जीभ या गले में सूजन आ सकती है।
  20. किसी किसी पेसेन्ट को जोड़ों मे दर्द हो सकते है।
  21. किसी किसी पेसेन्ट को सफेद पैच हो सकते है।
  22. किसी किसी पेसेन्ट को झुनझुनी हो सकती है।
  23. किसी किसी पेसेन्ट को स्किन सुन्न हो सकती है।
  24. किसी किसी पेसेन्ट को इन्जेक्शन वाली जगह पर गाठ हो सकती है।
  25. किसी किसी पेसेन्ट को वजाइन मे खुजली हो सकती है।
  26. किसी किसी पेसेन्ट को पसीना आना शुरू हो सकता है।
  27. किसी किसी पेसेन्ट को घबराहट हो सकती है।
  28. किसी किसी पेसेन्ट को BP कम हो सकता है।

अगर ये दवा लेने के बाद आपको इनमे से किसी भी दुष्प्रभाव का पता चलता है, कुछ दुष्प्रभाव दुर्लभ, लेकिन गंभीर हो सकते हैं। तो तुरंत ही अपने डॉक्टर से संपर्क करे जिससे आपको सही ट्रीटमेंट दिया जा सके।

और पड़े:- Azithromycin Antibiotic in Hindi । एजिथ्रोमाइसिन की जानकारी

Ceftriaxone Antibiotic लेंने की सावधानीया | Ceftriaxone Antibiotic Contraindications in Hindi :-

Ceftriaxone Antibiotic लेने से पहले कुछ सावधानियों को ध्यान मे रखना बहुत जरूरी है, जो निम्नलिखित है –

  • Ceftriaxone Antibiotic के प्रयोग करने से पहले अपने डॉक्टर की सलाह जरूर ले।
  • अगर किसी पेसेन्ट को पेट मे सूजन है तो इस दवा का प्रयोग न करे।
  • अगर किसी पेसेन्ट को पिया है तो इस दवा का प्रयोग न करे।
  • अगर किसी पेसेन्ट को किडनी की बीमारी है, जैसे किडनी का केन्सर, या किडनी स्टोन तो ये दवा का प्रयोग न करे।
  • अगर किसी पेसेन्ट को एसिडिटी है तो इस दवा का प्रयोग न करे।
  • अगर किसी पेसेन्ट को लिवर से संबधित कोई समस्या है तो इस दवा का प्रयोग न करे।
  • अगर आपको इस दवा से कोई एलर्जी है नतो इस दवा का उपयोग न करे।
  • अगर किसी पेसेन्ट को आंतों मे सूजन है तो इस दवा का प्रयोग न करे।
  • अगर किसी पेसेन्ट को दस्त है तो इस दवा का प्रयोग न करे।
  • अगर किसी पेसेन्ट को पित्ताशय का रोग है तो इस दवा का प्रयोग न करे।
  • अगर किसी पेसेन्ट को शुगर की समस्या है, अपने डॉक्टर की सलाह से ही इस दवा का प्रयोग करे।
  • अगर किसी पेसेन्ट को विटामिन K की कमी है तो इस दवा का प्रयोग न करे।
  • अगर आपको इमने से कोई समस्या है तो आप अपने डॉक्टर को जरूर से बताए।

और पड़े:- Ampicillin Antibiotic in Hindi | एम्पिसिलिन की जानकारी

Ceftriaxone Antibiotic की अन्य महत्वपूर्ण जानकारियां:-

Ceftriaxone Antibiotic की खुराक छूट गई है, तो क्या करे?

अगर कोई खुराक भूल जाने के करने छूट जाती है और फिर बाद मे याद आती है, तो उस खुराक को तुरंत ले लेना चाहिए और ध्यान रहे की अगली खुराक का समय तो नहीं हो गया है। अगर अगली खुराक का समय हो गया है, तो वो छुटी हुई खुराक को छोड़ देना चाहिए और अपने डॉक्टर की सलाह से खुराक का शिड्यूल फिर से शुरू करे। अपनी खुराक को समय पर लेने के लिए कुछ उपाय अपना सकते है-

  • डॉक्टर द्वारा दी गई खुराक के शिड्यूल को अच्छे से याद कर ले।
  • खुराक के समय का अलार्म लगा सकते है।
  • अपने परिवार की सदस्य याद दिलाने को कह सकते है।
  • खुराक का टाइम टेबल बना कर एक एसी जगह चिपका दे, जहा पर वो ज्यादातर नजर मे आता रहे।

Note:- छूटी हुई खुराक की भरपाई करने के लिए ज्यादा दवाई का सेवन ना करे और अगर खुराक छूट गई है, तो तुरंत अपने डॉक्टर से संपर्क करे।

Ceftriaxone Antibiotic का संग्रहण कैसे करे?

  • Ceftriaxone Antibiotic को अधिक गर्मी, अधिक तापमान और सीधी रोशनी से दूर रखे।
  • मेडिसन को फ्रीज़ मे ना रखे अगर Ceftriaxone Antibiotic के पैकेट के अंदर कोई निर्देश दिया गया है, जैसे दवा को इतने तापमान पर रखे, दवा को फ्रीज़ मे रखे येसे निर्देश हो तो उनका पालन करे।
  • दवा को पालतू जानवरों और बच्चों की पहुच से दूर रखना चाहिए।
  • दवा को नाली या शौचालय मे ना बहाए।
  • दवा को येसे ही किसी जगह पर ना फेंके।

और पड़े:- Amoxicillin Antibiotic in Hindi । अमोंक्सिसिलीन की जानकारी

Ceftriaxone Antibiotic दवा ले लिए विशेषज्ञ की सलाह । Expert Advice for Ceftriaxone Antibiotic in Hindi:-

Ceftriaxone Antibiotic दवा को लेने से पहले विशेषज्ञ की सलाह को ध्यान मे रखना बहुत जरूरी होता है। Ceftriaxone Antibiotic दवा को लेने के लिए विशेषज्ञ की सलाह निम्न है-

  • इस दवा का प्रयोग लंबे समय तक जारी न रखे।
  • अगर आपको Ceftriaxone Antibiotic से किसी तरह की एलर्जी है, तो आप इस दवा का उपयोग न करे।
  • दवा को खुद से बंद नहीं करे। इसके लिए अपने डॉक्टर से सलाह जरूर से ले।
  • अपने डॉक्टर द्वारा बताई गई डोज ही पेसेन्ट को दे।
  • अगर आपको इस दवा से कोई साइड इफेक्टस नजर आए तो तुरंत अपने डॉक्टर से संपर्क करे।
  • शराब के साथ इस दवा का उपयोग न करे।
  • दवा की डोज भूल जाने पर अपने डॉक्टर को संपर्क करे।
  • दवा को जानवरों और बच्चों की पहुच से दूर रखे।

Ceftriaxone Antibiotic से सम्बंधित चेतावनीया । Ceftriaxone Antibiotic Related Warnings in Hindi:-

प्रश्न:- क्या Ceftriaxone का उपयोग गर्भवती महिला के लिए ठीक है?

उत्तर:- गर्भवती महिलाओ के लिए Ceftriaxone को लेना बिल्कुल सुरक्षित है। अपने डॉक्टर की सलाह से इस दवा का प्रयोग कर सकती है।

प्रश्न:- क्या Ceftriaxone का उपयोग स्तनपान करने वाली महिलाओं के लिए ठीक है?

उत्तर:- Ceftriaxone का स्तनपाान कराने वाली मुहिलाओं पर बहुत कम प्रभाव पड़ता है। लेकिन आप अपने चिकित्सक से सलाह जरूर से ले तभी इस दवा का उपयोग करे।

प्रश्न:- Ceftriaxone का प्रभाव गुर्दे पर क्या होता है?

उत्तर:- किडनी पर Ceftriaxone का बहुत ही हल्का प्रभाव पड़ता है। आप इस दवा का इस्तेमाल कर सकते है। लेकिन इस दवा के उपयोग से पहले अपने डॉक्टर से सलाह जरूर से ले, तभी इस दवा इस्तेमाल करे। और इस दवा को लंबे समय तक प्रयोग न करे। येसा करने से आपकी किडनी खराब हो सकती है।

प्रश्न:- क्या Ceftriaxone मासिक धर्म चक्र को प्रभावित करता हैं?

उत्तर:- Ceftriaxone प्राक्रटिक क्रियाओ को प्रभावित नहीं करता है। और मासिक धर्म चक्र को प्रभावित नहीं करता है। यह दवा तो केवल बैक्टीरियल इन्फेक्शन को ठीक करती है।

प्रश्न:- Ceftriaxone का जिगर (लिवर) पर क्या असर होता है?

उत्तर:- लिवर पर Ceftriaxone का बहुत कम प्रभाव पड़ता है। आप इस दवा का प्रयोग कर सकते है। लेकिन अपने चिकित्सक से परामर्स जरूर से ले, तभी इस दवा का उपयोग करे। और याद रहे इस दवा का उपयोग लंबे समय तक नहीं करना चाहिए।

प्रश्न:- क्या ह्रदय पर Ceftriaxone का प्रभाव पड़ता है?

उत्तर:- Ceftriaxone का हार्ट पर हानिकारक प्रभाव नहीं पड़ता है। इया दवा को अपने चिकित्सक की सलाह से उपयोग कर सकते हो।

और पड़े:- Amikacin Antibiotic in Hindi । अमीकासिन की जानकारी

Ceftriaxone के बारे में अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न – Frequently asked Questions about Ceftriaxone in Hindi

प्रश्न:- Ceftriaxone क्‍या है?

उत्तर:- Ceftriaxone एक Antibiotic दवा है, जो cephalosporin ग्रुप की दवा है। जो बैक्टीरिया से लड़ने का काम करती है। Ceftriaxone Antibiotic केवल इन्जेक्शन फॉर्म मे ही पाई जाती है। इसकी कोई ओरल मेडिसिन नहीं आती है। आप इस एंटीबायोटिक को ऑरली नहीं ले सकते हो, इसको केवल इन्जेक्शन के द्वारा ही उपयोग कर सकत है।

प्रश्न:- Ceftriaxone कैसे कार्य करती है?

उत्तर:- Ceftriaxone Antibiotic थर्ड जनरेसन cephalosporin ग्रुप की दवा है। Ceftriaxone Antibiotic Bactericidal एक्टिविटी रखती है। यह दवा बैक्टीरियल कोशिकाओ को नस्ट कर देती है। बैक्टीरियल कोशिकाओ मे यह पेनिसिलिन-बाइंडिंग प्रोटीन रोक देती है। जिस कारण बैक्टीरियल कोशिका की दीवार का संश्लेषण रुक जाता है। संश्लेषण रुक जाने से बैक्टीरिया की मृत्यु हो जाती है। Ceftriaxone Antibiotic ग्राम पाज़िटिव और ग्राम नेगीतिव बैक्टीरिया को मारने का कार्य करती है।

प्रश्न:- Ceftriaxone का इस्‍तेमाल कैसे करें?

उत्तर:- Ceftriaxone की कोई औरल दवा नहीं होती है। यह दवा इन्जेक्शन के रूप मे ही उपलब्ध है। यह इन्जेक्शन के द्वारा ही पेसेन्ट को दी जाती है। इस दवा को बीमारी की स्थिति को ध्यान मे रखकर ही पेसेन्ट को दवा दी जाती है।

प्रश्न:- Ceftriaxone कब पेटेंट हुई थी और कब से इस दवा का उपयोग होता आ रहा है?

उत्तर:- Ceftriaxone Antibiotic की खोज 1978 मे हुई थी और 1982 से इस दवाई का मिडिसिनल उपयोग होता आ रहा है।

प्रश्न:- Ceftriaxone का असर कब शुरू होता है और कब तक रहता है?

उत्तर:- Ceftriaxone Antibiotic का असर लगभग 2 से 3 घंटे मे शुरू होता है। और इस दवा असर लगभग 24 घंटे तक रहता है।

प्रश्न:- क्या Ceftriaxone आदत या लत बन सकती है?

उत्तर:- Ceftriaxone को लेने से किसी को लत लगती है या नहीं। इस बारे मे कुछ कह नहीं सकते है। इसकी कोई जानकरी मौजद नहीं है। इसलिए आपने डॉक्टर के परामर्स से ही दवा का उपयोग करे।

प्रश्न:- क्या Ceftriaxone को लेते समय गाड़ी चलाना या कैसी भी बड़ी मशीन संचालित करना सुरक्षित है?

उत्तर:- Ceftriaxone लेने के बाद गाड़ी चलाना या कैसी भी बड़ी मशीन संचालित नहीं करे। क्योंकि इस दवा के बहुत सारे साइड इफेक्टस है। जिनसे आपको गाड़ी चलते समय नींद आ सकती है, आपको चक्कर आ सकती है, आपका BP कम हो सकता है। ये कुछ साइड इफेक्टस हो सकते है। जो बहुत खतरनाक हो सकते है। इसलिए इस दवा को लेने के बाद कोई भी गाड़ी चलाना या कैसी भी बड़ी मशीन संचालित नहीं करे।

प्रश्न:- क्या Ceftriaxone को लेना सुरखित है?

उत्तर:- हां, Ceftriaxone को लेना सुरक्षित है। लेकिन अपने डॉक्टर की सलाह से ही इस दवा का प्रयोग करे।

प्रश्न:- क्या मनोवैज्ञानिक विकार या मानसिक समस्याओं के इलाज में Ceftriaxone इस्तेमाल की जा सकती है?

उत्तर:- मनोवैज्ञानिक विकार या मानसिक समस्याओं के इलाज में Ceftriaxone इस्तेमाल करने से कोई फायदा नहीं होगा। बल्कि इस दवा के इस्तेमाल से पेसेन्ट की तबीयत भी खराब हो सकती है। क्योंकि इस दवा के बहुत सारे साइड इफेक्टस है, जो पेसेन्ट को गंभीर रूप से हानी पहुचा सकते है। इसलिए इस दवा का इस्तेमाल मनोवैज्ञानिक विकार या मानसिक समस्याओं के इलाज में नहीं करे।

प्रश्न:- क्या Ceftriaxone को कुछ खाद्य पदार्थों के साथ लेने से नकारात्मक प्रभाव पड़ता है?

उत्तर:- Ceftriaxone को भी आप भोजन के साथ ले सकते हैं। और डॉक्टर हमेशा इस दवा को भोजन के बाद लेने की सलाह देते है। इस दवा को भोजन के साथ लेने से कोई नुकसान नहीं होगा।

प्रश्न:- जब Ceftriaxone ले रहे हों, तब शराब पीने से नकारात्मक प्रभाव पड़ता है क्या?

उत्तर:- Ceftriaxone को शराब के साथ लेने से क्या प्रभाव पड़ता है। इस पर कोई रिसर्च नहीं हो पाने से कुछ कह नहीं सकते है। इसलिए इस दवा को शराब के साथ न ले। और इस बारे मे अपने डॉक्टर से सलाह जरूर ले।

प्रश्न:- क्या Ceftriaxone किसी भी वायरल संक्रमण के इलाज में सहायक हैं?

उत्तर:- Ceftriaxone केवल बैक्टीरियल इन्फेक्शन को ठीक करता है। वाइरल इन्फेक्शन ठीक करने मे सक्षम नहीं है।

प्रश्न:- Ceftriaxone दवा को खुद से लेना बंद कर सकते है।

उत्तर:- Ceftriaxone दवा को खुद से बंद नहीं करना चाहिए। येसा करने से इन्फेक्शन दोबारा होने की संभावना होती है। इसलिये डॉक्टर द्वारा दिए गए निर्देश के अनुसाए ही दवा प्रयोग करे। डॉक्टर जिनते दिनों तक लेने को कहे, उतने दिनों तक ही दवा का उपयोग करे।

आपको हमारी इस पोस्ट Ceftriaxone Antibiotic in Hindi मे आपको Ceftriaxone ले लाभ, एक्शन, दवा की सामग्री, साइड इफेक्टस, डोज डाक्टर की सलाह और सावधानियों के बारे मे सम्पूर्ण जानकारी मिल गई होगी है। और मे उम्मीद करता हूँ, की आपको ये पोस्ट जरूर पसंद आई होती है। अगर आपको ये पोस्ट पसंद आई है, तो इस जानकारी को अपने दोस्तों साथ शेयर करे। और अगर आपको कोई सवाल है, तो कॉमेंट मे जरूर लिखे।


Spread the love

Leave a Comment